डॉक्टर-(विशेषज्ञ—पीसीओएस / पीसीओडी ) – डॉ ममता भोमिया

Dr Mamta Bhomia

डॉ ममता वी भोमिया, एमबीबीएस, डी.जी.ओ.

सलाहकार प्रसूति एवं स्त्री रोग
निदेशक, संजीवनी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल
1 उदय पार्क सोसाईटी, सनराइज पार्क के पास ,
वास्तापुर, अहमदाबाद

 

पीसीओएस / पीसीओडी क्या है? इसके कारण और शुरुआती लक्षण क्या हैं?

पीसीओडी (PCOD- Polycystic ovarian disease) पॉलीसिस्टिक डिम्बग्रंथि रोग है। प्रजनन आयु वाली महिलाओं मंं यह विषम बहुतंत्रीय एंडोक्रिनोपैथी है।

पीसीओडी के कारण हैं:
  जीवन शैली में परिवर्तन
  निष्क्रिय जीवन शैली
  आहार
  तनाव

प्रारंभिक लक्षण हैं:
  मोटापा
  मासिक धर्म की असामान्यता
  हाइपरएन्ड्रोजेनिसम

पीसीओएस का निदान कैसे किया जाता है? पीसीओएस के परीक्षण में लगभग कितना खर्च आता है?

कोई दो मानदंड मौजूद होने चाहिए:

  ओलिगो/एमेनोरिया, एनोव्यूलेशन, बांझपन
  अतिरोमता (Hirsutism)/मुँहासे
  अल्ट्रासाउंड निष्कर्ष (स्वर्ण मानक)

पीसीओएस के लिए टेस्ट: ↑E2 के स्तर, ↑LH के स्तर, फास्टिंग इंसुलिन का स्तर> 10MIU / लीटर

अल्ट्रासाउंड निष्कर्ष हैं: बढ़े हुए अंडाशय → डिम्बग्रंथि मात्रा> 10mm2, 12 या अधिक पुटिका (follicles), प्रत्येक 2-3 मिमी आकार की, परिधि में।

परीक्षणों की लागत लगभग रु 4000/- रुपये है।

क्या PCOS किसी महिला की प्रजनन क्षमता को प्रभावित कर सकता है? यह एक जीवन भर की स्थिति है?

पीसीओएस में प्रजनन क्षमता प्रभावित होती है। यह आजीवन की स्थिति नहीं है; ठीक किया जा सकता है।

क्या पीसीओएस जीवन के लिए खतरा है? पीसीओएस से पीड़ित महिला के लिए उपचार के विकल्प क्या हैं?

पीसीओएस जीवन के लिए खतरा नहीं है। उपचार प्रत्येक महिला की आवश्यकताओं के अनुरूप होना चाहिए। जिस में शामिल है:

  वजन घटाना
  जीवन शैली में परिवर्तन
  इनके लिए हार्मोनल उपचार:
     मासिक धर्म संबंधी विकार
     अतिरोमता
     बांझपन




क्या पीसीओएस दवाओं से ठीक हो सकता है? इसे कब तक लेना होता है? लागत क्या शामिल है?

पीसीओएस एक सिंड्रोम है और इनके द्वारा इसका ध्यान रखा जा सकता है:
  व्यायाम
  आहार
  दवा

उपचार की अवधि गंभीरता पर निर्भर करती है लेकिन यह लगभग 1 वर्ष से 2 वर्ष है। प्रति माह लागत लगभग रु 2000/- है।

पीसीओएस के लिए सर्जरी की सलाह कब दी जाती है? सर्जरी में कितना खर्च होता है?

पीसीओएस के लिए सर्जरी आमतौर पर बांझपन के मामलों में इंगित की जाती है, यदि मेडिकल चिकित्सा विफल हो जाती है, या फिर हाइपरस्टिम्यूलेशन के मामले, और पिछले गर्भावस्था के नुकसान का मामला होने पर।
सर्जरी की लागत संस्था पर निर्भर करती है (आमतौर पर रु 20,000/- से रु 30,000/- के बीच)।

क्या आप उन महिलाओं को कोई जीवन शैली / आहार परिवर्तन की सलाह देती हैं, जिन्हें पीसीओएस है? क्या पीसीओएस रोगी के लिए एक विशेष आहार है? क्या उन्हें ग्लूटेन मुक्त और कम डेयरी वाला आहार लेना चाहिए?

पीसीओएस उपचार में जीवन शैली / आहार परिवर्तन शामिल हैं। कोई विशेष आहार नहीं है लेकिन वजन कम होना चाहिए। हां, रोगी को डेयरी उत्पादों को कम करना चाहिए और ग्लूटेन मुक्त पदार्थ लेने चाहिए।

पीसीओएस वाले रोगियों के लिए आहार:

क्या खायें:
  उच्च फाइबर खाद्य पदार्थ
  उच्च जैविक मूल्य वाले खाद्य पदार्थ
  खाद्य पदार्थ जो सूजन को कम करते हैं (जैसे, टमाटर, स्ट्रॉबेरी, आदि)

क्या न खायें:
  परिष्कृत कार्बोहाइड्रेट वाले खाद्य पदार्थ
  मीठे पेय, नमकीन और शीतल पेय
  खाद्य पदार्थ जो सूजन को बढ़ाते हैं (जैसे, जंक फूड, केक, पेस्ट्री आदि)

क्या पीसीओएस के साथ वजन कम करना अधिक कठिन है?

हां, पीसीओएस के साथ वजन कम करना मुश्किल है क्योंकि एंडोक्रिनोपैथी भी शामिल है, लेकिन व्यक्ति इनसे निश्चित रूप से अपना वजन कम कर सकता है:

  आहार
  व्यायाम
  दवाई

क्या आप अपने शहर / भारत में कुछ सहायता समूहों (ऑनलाइन या ऑफलाइन) का सुझाव दे सकती हैं, जो पीसीओएस वाली महिलाओं को सहायता प्रदान करते हैं?

ऐसा कोई सहायता समूह नहीं हैं, लेकिन रोगी इन सलाहकार की मदद ले सकते हैं:

  प्रसूतिशास्री
  एंडोक्राइनोलॉजिस्ट
  आहार विशेषज्ञ

पीसीओएस से पीड़ित महिलाओं को आप क्या सलाह देना चाहेंगी?

व्यायाम और जीवन शैली पीसीओडी का ताला खोलने की कुंजी है। युवाओं को मोबाइल फोन का इस्तेमाल कम करना चाहिए और इसके बजाय आउटडोर गेम खेलना चाहिए या साइकिल चलाना चाहिए।

 

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x